Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Bihar Gk/GS

बिहार का भूगोल सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में free pdf Download

दूसरों के साथ शेयर कीजिये

बिहार एक परिचय  (बिहार का भूगोल)

प्रस्तावना 
बिहार लोक सेवा आयोग के परीक्षा में 10 से 15 प्रश्न बिहार से सम्बंधित आते है | इनमे से कुछ प्रश्न की प्रकृति तथ्यात्मक होती है जिसे याद करने का एक ही विकल्प है उसे रट्टा मारना| इस लेख में बिहार के भूगोल बारे में कुछ परीक्षा उपयोगी तथ्य का संग्रह किया गया है |

बिहार का भूगोल

बिहार का भूगोल

बिहार का आप इसे भी पढ़ सकते हैंबिहार का इतिहास 

  • अक्षांशीय विस्तार – 24° 20′ 50”से 27° 31′ 15” उत्तरी अक्षांश
  • देशांतरीय विस्तार – 83° 19′ 50”से 88° 17′ 40” पूर्वी देशांतर
  • आकृति – आयताकार
  • क्षेत्रफल – 94163 वर्ग किलो मी .
  • लंबाई (उत्तर से दक्षिण ) –345 किमी
  • चौड़ाई -(पूर्व से पश्चिम) –483 किमी
  • औसत ऊंचाई – समुद्र तट से 52 .73 मी.
  • सीमाएं – उत्तर में नेपाल(7 जिलों से सीमा बनाती है ) ,दक्षिण में झारखण्ड(9 जिलों से ) , पूर्व में पश्चिम बंगाल (3 जिलों से ),पश्चिम में उत्तर प्रदेश (7 जिलों से )
  • बिहार की जलवायु – मानसूनी
  • औसत वर्षा – 112 से.मी.
  • शुद्ध बोया गया क्षेत्र – 56,94,642हेक्टेयर,60.48 प्रतिशत
  • गैर कृषि कार्यों में लगी भूमि –16,35,467 हेक्टेयर ,17.37 प्रतिशत
  • ऊसर या गैर कृषि योग्य भूमि – 4,36,503 हेक्टेयर ,4.64 प्रतिशत
  • स्थायी चारागाह –18,356 हेक्टेयर ,0.19 प्रतिशत
  • विविध पेड़ व बगीचा – 2,30,286 हेक्टेयर , 2.45 प्रतिशत
  • बाढ़ प्रवाहित क्षेत्र – 64.41 लाख हेक्टेयर

बिहार की संरचना व उनका विस्तार –

Click on the Link to Download बिहार का भूगोल

  • धारवाड़ चट्टान – गया ,नवादा , जमुई ,मुंगेर , बांका
  • विंध्यन समूह की चट्टानें – कैमूर, रोहतास
  • टर्शियरी चट्टानें – पश्चिमी चंपारण
  • क्वार्टरनरी काल की चट्टानें – गंगा के मैदानी भागों में

बिहार में वन

  • कुल भौगोलिक क्षेत्र – 94,163 sq km
  • कुल वन क्षेत्र – 7,288 sq km
  • वन का क्षेत्रफल प्रतिशत में – 7.74%
  • अति सघन वन क्षेत्र – 248 sq km
  • राज्य में संरक्षित वन क्षेत्र – 3208.47 sqkm
  • राज्य में गैर संरक्षित वन क्षेत्र – 76.3 sqkm
  • राष्ट्रीय पार्क – 1, वाल्मिकीनगर
  • वन्य जिव अभ्यराण्य – 11
  • बिहार में सर्वाधिक वन क्षेत्र वाले जिले – कैमूर ,प चंपारण
  • बिहार में न्यूनतम वन क्षेत्र वाले जिले – शिवहर ,शेखपुरा
  • बिहार में वन के प्रकार – दो (आद्र पर्णपाती व शुष्क पर्णपाती वन)
  • आद्र पर्णपाती वन के वृक्ष – शीशम, शेलम, शाल, खैर
  • शुष्क पर्णपाती वन के वृक्ष – महुआ, आम, कटहल, जामुन

बिहार के प्रमुख अभ्यारण्य व सम्बंधित जिले

  • वाल्मिकीनगर राष्ट्रीय उद्यान – प. चंपारण
  • वाल्मिकी आश्रयणी – प. चंपारण
  • गौतम बुद्ध अभ्यारण्य – गया
  • भीम बांध अभ्यारण्य – मुंगेर
  • विक्रमशीला गंगा डॉलफिन अभ्यारण्य – भागलपुर
  • कैमूर अभ्यारण्य – रोहतास (बिहार का सबसे बड़ा अभ्यारण्य)
  • पन्त अभ्यारण्य – नालंदा
  • परमार डॉल्फिन अभ्यारण्य – अररिया
  • कावर पक्षी विहार – बेगूसराय
  • कुशेश्वर पक्षी विहार – दरभंगा
  • गोगाबिल पक्षी विहार – कटिहार
  • नागी डैम व नकटी डैम पक्षी विहार – जमुई
  • सुहियान पक्षी विहार – भोजपुर
  • संजय गाँधी जैविक उद्यान – पटना
  • हरिया बारा हिरण पार्क – अररिया

बिहार में सिंचाई

  • कुल सिंचित क्षेत्र – 45,50,244 हेक्टेयर
  • सिंचित क्षेत्र (प्रतिशत में) – 48.33%
  • सिंचाई के मुख्य स्रोत- नलकूप , नहरें ,तालाब , कुआं,जलमग्न गड्ढ़े
  • नलकूप द्वारा सिंचित भूमि का प्रतिशत – 55.4 %
  • नहर द्वारा सिंचित भूमि का प्रतिशत – 34 %
  • तालाब द्वारा सिंचित भूमि का प्रतिशत – 3.2 %
  • कुआं द्वारा सिंचित भूमि का प्रतिशत – 0.5 %
  • अन्य साधनों द्वारा सिंचित भूमि का प्रतिशत – 6.5 %
  • वृहद सिंचाई परियोजना की सिंचाई क्षमता – 10,000 हेक्टेयर से अधिक (कमांड क्षेत्र)
  • माध्यम सिंचाई परियोजना की सिंचाई क्षमता – 2000 से 10000 हेक्टेयर
  • लघु सिंचाई परियोजना की सिंचाई क्षमता – 2000 हेक्टेयर से कम
  • सर्वाधिक सिंचित भूमि वाला जिला – शेखपुरा
  • न्यूनतम सिंचित भूमि वाला जिला – जमुई
  • नहर सिंचाई में अग्रणी जिलें – रोहतास , प. चंपारण
  • नहर द्वारा न्यूनतम सिंचाई वाले जिलें – मुजफ्फरपुर , वैशाली

बिहार की प्रमुख सिंचाई परियोजनाएं एवं नहरें

1 . सोन बहुद्देशीय परियोजना – 1874

प्रमुख नहरें –

  • पूर्वी सोन नहर- (औरंगाबाद , अरवल ,पटना ,गया , जहानाबाद )
  • प. सोन नहर – (आरा , बक्सर ,रोहतास )

2 . गंडक परियोजना (त्रिवेणी)-1904

    • मुख्य बांध – वाल्मिकीनगर डैम

मुख्य नहरें

  • प. नहर -(गोपालगंज ,सारण,सिवान)
  • पूर्वी नहर या तिरहुत नहर – (पश्चिमी व पूर्वी चंपारण , मुजफ्फरपुर ,वैशाली )

3 . कोशी बहुद्देशीय परियोजना – 1954 -55

  • मुख्य बांध– हनुमार नगर बांध
  • मुख्य नहरें – पूर्वी कोशी नहर (पूर्णिया , अररिया )

बिहार की नवीनतम सिंचाई परियोजनाएं एवं सम्बंधित जिलें

  • बरनाल जलाशय योजना – भागलपुर ,जमुई

    उत्तर कोयल जलाशय योजना – गया , औरंगाबाद

    पुनपुन बैराज योजना – औरंगाबाद, गया, पटना ,जहानाबाद

    बटेश्वरनाथ पम्प नहर योजना – भागलपुर

    जमानिया पम्प नहर योजना – कैमूर

    अपर किउल जलाशय योजना – मुंगेर , लखीसराय

    तिलैया डायवर्सन योजना – गया, नवादा

    दुर्गावती जलाशय योजना – रोहतास , कैमूर

    बटाने जलाशय योजना – औरंगाबाद

    बागमती परियोजना – सीतामढ़ीबिहार की नदियां व उनके उदगम स्थान

    गंगा –गंगोत्री

    घाघरा या सरयू –मचपाचुंग ,तिब्बत

    गंडक –सप्तगंडकी नेपाल 

    बूढी गंडक –सोमेश्वर श्रेणी 

    बागमती –महाभारत श्रेणी ,नेपाल 

    कमला –महाभारत श्रेणी , नेपाल

    कोसी –सप्तकौशिकी ,नेपाल

    महानंदा –मकलादियाराम , दार्जलिंग

    कर्मनाशा –विंध्याचल पहाड़ी 

    सोन –अमरकंटक 

    पुनपुन –चोराहा पहाड़ी , पलामू

    फल्गु –हजारीबाग पठार

    पंचानेन –उत्तरी छोटानागपुर

    सकरी –उत्तरी छोटानागपुर

    अजय –बटपाड़ , चकाई,जमुई

बिहार के जलप्रपात 

प्रमुख झरने ,जलकुंड व उनके उदगम स्थल

  • सप्तधारा या सतघरवा – राजगीर
  • ब्रह्मकुंड – राजगीर
  • सूर्यकुंड – राजगीर
  • नानक कुंड – राजगीर
  • मख दुम कुंड – राजगीर
  • गोमुख कुंड – राजगीर
  • लक्ष्मण कुंड – मुंगेर
  • सीता कुंड – मुंगेर
  • रामेश्वर कुंड – मुंगेर
  • ऋषि कुंड – मुंगेर
  • जन्म कुंड – मुंगेर
  • श्रृंगार ऋषि कुंड – मुंगेर
  • भरारी कुंड – मुंगेर
  • अग्नि कुंड – गया

दोस्तों अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल है या ebook की आपको आवश्यकता है तो आप निचे comment कर सकते है. आपको किसी परीक्षा की जानकारी चाहिए या किसी भी प्रकार का हेल्प चाहिए तो आप comment कर सकते है. हमारा post अगर आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे.

You May Also Like This

अगर आप इसको शेयर करना चाहते हैं |आप इसे Facebook, WhatsApp पर शेयर कर सकते हैं | दोस्तों आपको हम 100 % सिलेक्शन की जानकारी प्रतिदिन देते रहेंगे | और नौकरी से जुड़ी विभिन्न परीक्षाओं की नोट्स प्रोवाइड कराते रहेंगे |

Disclaimer:currentshub.com केवल शिक्षा के उद्देश्य और शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गयी है ,तथा इस पर Books/Notes/PDF/and All Material का मालिक नही है, न ही बनाया न ही स्कैन किया है |हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material provide करते है| यदि किसी भी तरह यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो Please हमे Mail करे- currentshub@gmail.com

loading...

About the author

Shubham yadav

आपकी तरह मै भी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करता हूँ। इस वेबसाइट के माध्यम से हम एसएससी , आईएएस , रेलवे , यूपीएससी इत्यादि परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों की मदद कर रहे हैं और उनको फ्री अध्ययन सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं | इस वेब साईट में हम इन्टरनेट पर ही उपलब्ध शिक्षा सामग्री को रोचक रूप में प्रकट करने की कोशिश कर रहे हैं | हमारा लक्ष्य उन छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं की सभी किताबें उपलब्ध कराना है जो पैसे ना होने की वजह से इन पुस्तकों को खरीद नहीं पाते हैं और इस वजह से वे परीक्षा में असफल हो जाते हैं और अपने सपनों को पूरे नही कर पाते है, हम चाहते है कि वे सभी छात्र हमारे माध्यम से अपने सपनों को पूरा कर सकें। धन्यवाद..
Credits-Pradeep Patel CEO of www.sarkaribook.com

4 Comments

  • बहुत अच्छी जानकारियों का संग्रह प्रस्तुत करने के लिए धन्यवाद प्रदीप भाई।

    बिहार लोक सेवा आयोग के सिलेबस के अनुसार कुछ ऐसे टॉपिक्स हैं जिनपे स्टडी मटेरियल या कोई पुस्तक उपलब्ध हो तो बताइयेगा,बड़ी मदद होगी,ये टॉपिक्स हैं : –

    1. बिहार के इतिहास की प्रमुख विशेषताएं
    2. आज़ादी के पश्चात बिहार की अर्थव्यवस्था के प्रमुख परिवर्तन
    3. भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में बिहार का योगदान
    4. बिहार के इतिहास की मुख्य घटनाएँ
    5. बिहार का भूगोल
    6. बिहार में कृषि एवं प्राकृतिक संसाधन
    7 . बिहार के प्रमुख भगौलिक भाग तथा महत्वपूर्ण नदियाँ

Leave a Comment