Eassy Gk/GS

National Science Day कब मनाया जाता है ? और इसी दिन क्यों मनाया जाता है.

National Science Day
National Science Day

National Science Day कब मनाया जाता है ? और इसी दिन क्यों मनाया जाता है.

National Science Day kab manaya jata hai in Hindi: सभी परीक्षाओं हेतु बहुत ही उपयोगी –Hello Friends,currentshub में आपका स्वागत हैं,आज में आप सभी विद्यार्थियों को बताऊंगा,28 फरवरी को क्यों मनाया जाता है National Science Day, आखिर क्यों मनाया जाता है इस दिन राष्ट्रीय विज्ञान दिवस ! आप सभी विद्यार्थी निचे दिए गए  लेख के माध्यम से समझे :-

इसी भी पढ़ें…

Important information about National Science Day

C.V Raman Story : राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 28 फरवरी रमन प्रभाव राष्ट्रीय विज्ञान दिवस भारत के 1886 से प्रतिवर्ष 28 फरवरी को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के रूप में मनाया जाता है | प्रोफेसर सीवी रमन ने 1928 में कोलकाता में इसी दिन एक उत्कृष्ट वैज्ञानिक की खोज की थी, जो रमन प्रभाव के रूप में जाना जाता है और प्रसिद्ध हुआ रमन की खोज की, इसीलिए उन्हें 28 फरवरी को राष्ट्रीय दिवस मनाया जाता है |

इसी भी पढ़ें…

इस कार्य के लिए उन्हें 1930 का नोबेल पुरस्कार से भी प्रमाणित किया गया|  वर्ष 1986 में विज्ञान और तकनीकी शिक्षा परिषद भारत सरकार की राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के रूप में जाए 28 फरवरी 1987 को विज्ञान दिवस घोषित कर दिया गया, और पहली बार 28 फरवरी 1987 को राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया गया इसका मूल उद्देश्य विद्यार्थियों को विज्ञान के प्रति अपनी और आकर्षित करना और नए प्रयोगों के लिए प्रेरित करना तथा विज्ञान और वैज्ञानिक उपलब्धियों को बनाना विज्ञान संस्थान वैज्ञानिक गतिविधियों से संबंधित कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है |

वैज्ञानिक ने भाषण निबंध लेखन विज्ञान प्रश्न उत्तर विज्ञान प्रदर्शनी तथा इत्यादि कार्यक्रम पर जगह-जगह आयोजित होते हैं विज्ञान के क्षेत्र में उनका विशेष योगदान के लिए पुरस्कार की घोषणा की जाती है, रसायन की आणविक संरचना के अध्ययन के बारे में रमन प्रभाव में प्रभावित साधन है राष्ट्रीय विज्ञान दिवस देश के विज्ञान के क्षेत्र में निरंतर उन्नति का आवाहन करता है और परमाणु ऊर्जा को लेकर लोगों को मन में कायम भ्रमित को दूर करना इनका मुख्य उद्देश्य था इसके विकास को ही हम समाज के लोगों को जीवन अख्तर अधिक से अधिक कुशल बना सकते हैं |

क्या है रमन प्रभाव – What is the Raman effect

रमन प्रभाव रमन प्रभाव के अनुसार जब प्रकाश की एक तरंग एक द्रव्य से निकलती है तो इस प्रकाश तरंग का कुछ भाग एक ऐसी दिशा में प्रकीर्ण हो जाता है जो कि आने वाली प्रकाश तरंग की दिशा से भिन्न है यह प्रभाव फोटोन कणों के लचीले वितरण के बारे में है वर्ष  1930 में चन्द्रशेखर वेंकटरमन को उनके इस खोज के लिए नोबेल पुरस्‍कार प्रदान किया गया था

इसलिए “National Science Day” को मनाया जाता है, जैसा की आप सभी विद्यार्थियों  ने ऊपर दिए गए लेख के माध्यम से पढ़े होगे |

Download

 

Note: इसके साथ ही अगर आपको हमारी Website पर किसी भी पत्रिका को Download करने या Read करने या किसी अन्य प्रकार की समस्या आती है तो आप हमें Comment Box में जरूर बताएं हम जल्द से जल्द उस समस्या का समाधान करके आपको बेहतर Result Provide करने का प्रयत्न करेंगे धन्यवाद।

You May Also Like This

अगर आप इसको शेयर करना चाहते हैं |आप इसे Facebook, WhatsApp पर शेयर कर सकते हैं | दोस्तों आपको हम 100 % सिलेक्शन की जानकारी प्रतिदिन देते रहेंगे | और नौकरी से जुड़ी विभिन्न परीक्षाओं की नोट्स प्रोवाइड कराते रहेंगे |

Disclaimer: currentshub.com केवल शिक्षा के उद्देश्य और शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गयी है ,तथा इस पर Books/Notes/PDF/and All Material का मालिक नही है, न ही बनाया न ही स्कैन किया है |हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material provide करते है| यदि किसी भी तरह यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो Please हमे Mail करे- [email protected]

About the author

shubham yadav

आपकी तरह मै भी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करता हूँ। इस वेबसाइट के माध्यम से हम एसएससी , आईएएस , रेलवे , यूपीएससी इत्यादि परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों की मदद कर रहे हैं और उनको फ्री अध्ययन सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं | इस वेब साईट में हम इन्टरनेट पर ही उपलब्ध शिक्षा सामग्री को रोचक रूप में प्रकट करने की कोशिश कर रहे हैं | हमारा लक्ष्य उन छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं की सभी किताबें उपलब्ध कराना है जो पैसे ना होने की वजह से इन पुस्तकों को खरीद नहीं पाते हैं और इस वजह से वे परीक्षा में असफल हो जाते हैं और अपने सपनों को पूरे नही कर पाते है, हम चाहते है कि वे सभी छात्र हमारे माध्यम से अपने सपनों को पूरा कर सकें। धन्यवाद..
Credits-Pradeep Patel CEO of www.sarkaribook.com

Leave a Comment